Clearwax ear drops in hindi

Clearwax ear drops in hindi – कान का मैल निकालें झठ से

Clearwax ear drops in hindi- कान का मैल निकालने की दवा- ईयर वैक्स यानी कान का गंधक। यानी कान का मैल। जो लोग अपने कान पर ज्यादा ध्यान नहीं देते उन लोगों में कान का मैल जमा होना यह समस्या पाई जाती है। खासकर यह छोटे बच्चों में ज्यादा पाई जाती है।  क्योंकि वह अपने कान पर ज्यादा ध्यान नहीं देते।

कान का मैल नीकालने की दवा 

कान का मैल अगर पूरी तरह से सूख जाए तो वह निकलने में बहुत ही तकलीफ देता है। अगर उसका कान में कंकड़ हो जाए तब तो निकालना नामुमकिन ही हो जाता है। तब लोग कान का मेल, वैक्स निकालने के लिए बहुत सारे घरेलू उपाय करते हैं। 


 कुछ लोग तो कान के डॉक्टर के पास जाते हैं। लेकिन यह सब दर्दनाक होता है। तो इस आर्टिकल में मैं आपको एक ऐसी दवाई बताऊंगा जिससे आपके कान का मैल निकल कर जट से बाहर आ जाएगा। वह आपको दुखेगा भी नहीं । बिल्कुल ही नहीं दुखेगा। read this post in English

Clearwax ear drops in hindi 

उस ड्रॉप का नाम है क्लियर वैक्स clearwax ear drops in hindi। जो सिपला कंपनी का आता है। दूसरे भी ब्रांड नेम के औषधि चलेगी लेकिन कंटेंट्स सेम होना चाहिए। सोल्लू वैक्स soluwax भी बहुत फेमस है।


इसका कंटेंट है पैराडाइ क्लोरो बेंजीन paradichlorobenzen, बेंजोकेन benzocaine,  क्लोरबूतोल chlorbutol, टरपेंटाइन ऑयल terpentine oil। motapa kam karne ke upay


 इसमें पैराडाई क्लोरो बेंजीन वैक्स सॉफ्टनर,  wax softner है। वैक्स सॉफ्टनर मतलब वैक्स रिजॉल्वर resolve करता है। कान के मैल को गाढ़े से पतला बनाता है। और मैल को पिघलाकर बाहर निकालता है ।इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीफंगल प्रॉपर्टीज भी है।


क्लोरबूतोल , chlorbutol  प्रिजर्वेटिव है।  बेंजोकेन एनेस्थेटिक anaesthetic और पेन किलर है।  इसकी मदद से मैल बाहर आने की पूरी प्रोसेस पेनलेस हो जाती है। और आपका कान बिल्कुल ही नहीं दुखता।


टरपेंटाइन ऑयल लुब्रिकेंट lubricant है।  वह मैल बाहर निकालने में मदद करता है । और वह एक सॉफ्टनर भी है। वह कान के गंधक को disolve करके बाहर निकालता है। hyperthyroidism in hindi

कान का मैल निकालने की drop Doses

इसके 3  ड्रॉप्स थ्री टाइम्स ए डे।  दिन में दो तीन  बार दोनों कानों में। तीन बूंद डालनी है एक कान में 3 बार डालने के बाद आपको 10 मिनट तक उसी साइड पर लेटे रहना है। तभी अषधि कान में रहकर अपना काम कर पाएगी। अगर जल्दी  उठ गए तो औषधि भी कान से बाहर आ गया जाएगी। और कान का मैल जल्दी नहीं बाहर निकल सकेगा।


उसके बाद दूसरे बाजू में लेट कर दूसरे कान में तीन बूंद   डालने हैं। उसके बाद भी 10 मिनट तक आपको लेटे रहना है।


रोज सुबह आपको earbud  से कान का मैल साफ करना है। ऐसा आपको कम से कम 15 दिन तक करना है। और ज्यादा से ज्यादा 1 महीने तक।  इसके दौरान आपका कोई सा भी मैल हो, कितना भी कंकड़ बन चुका हो।  कान का मैल  वह पिघल कर पूरा का पूरा बाहर आ ही जाएगा।
कान का मैल निकालने की दवा की पुरी जानकारी दि है।

Stay fit stay healthy । melasma in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *