Conjunctivitis in hindi

Conjunctivitis in hindi

Conjunctivitis in hindi – आखिर आना आम बात है। यह बीमारी किसी को भी आ सकती है। इसको गुलाबी आँख  भी कहा जाता है।  यह एपिडेमिक रूप में आती है। epidemic यानी कि अगर यह एक को हो जाए तो वह दूसरों में बहुत ही जल्दी फैलता है।  आपके घर में किसी को कोई बीमारी हो तो घर के बाकी सदस्यों को भी हो सकती है। यह ज्यादातर बच्चों में होती है। लेकिन बुढों में भी हो सकती है,  लेकिन यह कम पाई जाती
है।

Read this post in English 

 बीमारी एक खास सीजन में ही पाई जाती है। इस का सीजन है समर सीजन, यानी गर्मी का मौसम। इंडिया  में गर्मी मार्च से ही शुरू हो गई है, अप्रैल-मई तक यह बीमारी पाई जाती है।  एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में जल्दी ही पहुंच जाती है। इसीलिए conjunctivitis पेशेंट  से दूरी बनाए रखना ही सबसे इंपोर्टेंट है। 

Conjunctivitis symptoms 

आंख का सफेद भाग जो है वह पूरी तरह से गुलाबी पड़ जाता है। इसीलिए इसे गुलाबी आंख भी कहते हैं। आंख बहुत ही ज्यादा दुखती है। आंखों में जलन होती है। आंखों में खुजली बहुत ज्यादा होती है। आख  का अजू बाजूका एरिया पूरा सूज जाता है। आंख से लगातार पानी आता रहता है। कुछ-कुछ कैसेस में यह पीला मवाद भी आता है। मवाद यानी pus।
Read more- covid-19 vaccine 

        आँख  आने का एक कैरेक्टरिस्टिक साइन है। conjunctivitis का सबसे महत्वपूर्ण लक्षण  क्या है? अगर आप सोकर सुबह उठेंगे तब, आप आख खोल नहीं  सकते। ऐसा क्यों होता है? क्योंकि दोनों पलकों के बीच में पीला तरल पदार्थ, पीला मवाद जमा हो जाता है। इससे पलके एक दूसरे को चिपक जाती है। उससे सुबह आख खोलने में परेशानी होती है। 

Conjunctivitis in hindi treatment 

इसमें आंख में डालने की दवा सबसे महत्वपूर्ण है। आख आने के बाद कुछ लोग डॉक्टर से दवाई लेते हैं। कुछ लोग खुद से ही self-medication करते हैं। या फिर मेडिकल स्टोर में बैठे हुए शख्स की सलाह से दवाई लेते है।

लेकिन बहुत सारे लोगों का ऐसा अनुभव है कि इससे झट से बीमारी कम नहीं होती। तो अब मैं आपको जो ट्रीटमेंट बताऊंगा उससे कंजेक्टिवाइटिस यानी आँख   आना बिल्कुल ही ठीक हो जाएगी और झट से ठीक हो जाएगी।

    1. Tobra d eye drops-टोबरा डी आई ड्रॉप्स इसका कंटेंट है टोबरामायकिन tobramycin. टोबरा स्टार tobrastar eye drops आई ड्रॉप्स,  (mankind) यह आपको आसानी से मेडिकल में मिल जाएगी। इसका ,does है चार बूंद  दिन में तीन बार दोनों आंखों में। 

दोनों आंखों में ड्रॉप डालना जरूरी है क्योंकि एक आंख आने पर दूसरी आंख तो दो-तीन दिन में आती ही आती है। इसका कोर्स होता है 7 दिन का। एक-दो दिन में फर्क पड़े फिर भी आपको कोर्स 7 दिन का पूरा ही करना होता है।

2. Mahaflox eye drops,  moxiflox eye drops-इसका कंटेंट है moxifloxacin मॉक्सिफ्लाक्सासिन । ( mankind) आपको आसानी से मेडिकल स्टोर में उपलब्ध हो जाएंगे।  tobrastar से 99% तक आख आने के कैसेस ठीक ही हो जाते हैं। लेकिन  एक परसेंट केस में अगर इससे फर्क ना पड़े तो इससे बेहतर है,  mahaflox आई ड्रॉप्स। इसका dose भी वैसा ही है और 4बूँद  दिन में तीन बार,  दोनों आंखों में 7 दिन के लिए।

     यह सब  आपको अपने फैमिली डॉक्टर की सलाह पर ही लेनी है। डॉक्टर के प्रिसक्रिप्शन  पर ही यह औषधि लीजिए। डॉक्टर को दिखाएं डॉक्टर आप को आप की आंखों में अगर ज्यादा जलन होगी और ज्यादा पानी आ रहा होगा, तो टेबलेट okacet देंगे और अगर आप ज्यादा सूज गई होगी और दुख रहे होगे तो एक खादी पेन किलर देंगे।

Precautions in conjunctivitis 

आपको डॉक्टर द्वारा दी गई है औषधि का पूरा कोर्स करना पड़ेगा। यह बीमारी हाईली कॉन्टेजियस contagious है।इसके लिए अगर आपको यह बीमारी हो जाए तो दूसरे लोगों से आप दूर ही रहे। ताकि इसका फैलाव रोका जा सके।Stay fit stay healthy

Conjunctivitis in hindi explained.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

Remove your ads block in browser to proceed.

Refresh