High protein diet plan in hindi

High protein diet plan in hindi

High protein diet plan in hindi – जिम जाने वाले लोगों को प्रोटीन की सबसे ज्यादा जरूरत होती है । पर ऐसा नहीं है कि सामान्य व्यक्ति को प्रोटीन की जरूरत नहीं होती । हर एक आदमी को प्रोटीन की जरूरत होती है । रोजमर्रा के काम करने के लिए कितनी मात्रा में प्रोटीन चाहिए ?

अगर आपका 1kg बॉडी वेट हो तो आपको 1 ग्राम प्रोटीन हर रोज आपके भोजन में लेना पड़ेगा । इसका मतलब है कि अगर आपका वजन 50 किलो हो तो आपको 50 ग्राम प्रोटीन हर रोज चाहिए । अगर आपका वेट 100 किलो हो तो 100 ग्राम चाहिए । अगर आपका वेट 10 किलो हो तो 10 ग्राम चाहिए ।

नॉन वेजिटेरियन वालों को तो प्रोटीन की कमी नहीं महसूस होती । क्योंकि वह अंडा , मटन , चिकन , कोई भी खा सकते हैं। और वह प्रोटीन में रिच होते हैं । प्रॉब्लम वेजीटेरियंस वालों को आती है ; क्योंकि वेज में प्रोटीन कम मात्रा में होता है ।और किस किस पदार्थ में प्रोटीन है और क्या पदार्थ प्रोटीन के लिए खाना चाहिए यह वेजिटेरियन को पता नहीं होता ।

तो अब हम मैं आपको पांच ऐसे फूड्स बताऊंगा ; खाने की चीजें बताऊंगा जो vegetarians खा सकते हैं और अपनी प्रोटीन की दिनभर की मात्रा पूरा कर सकते हैं । high protein diet plan in hindi । protein rich foods for vegetarians in hindi ।

Protein rich food for vegetarians in hindi । high protein diet plan in hindi ।

सोयाबीन और न्यूट्रेला सोया चुंक्स – सोयाबीन आप खाने में ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करें । सोयाबीन का जब सीजन होता है तब आप ग्रेवी और सोयाबीन की सब्जी बना कर खा सकते हैं । और जब सोयाबीन का सीजन नहीं होता तब सोयाबीन को भट्टी में ले जाकर उसे अच्छी तरह से भून कर लाईएं । वह क्या करते हैं कि नमक मिर्च लगाकर उसे भून देते हैं । उसे आप घर में स्टोर भी कर सकते हैं । रोज एक मुट्ठी भर के सोयाबीन खाने की आदत डालें ।

उसके बाद है न्यूट्रेला सोया चंक्स क्या – यह छोटे-छोटे बाॅल होते हैं जो सोयाबीन से तैयार किए जाते हैं । उसका पैकेट आता है जो आसानी से बाजार में मिल जाएगा । उसकी आप सब्जी भी बनाकर खा सकते हैं । हर चार-पांच दिन के बाद सब्जी बनाकर खाईएं। black spots on skin ।

टोफू – टोफू एक ऐसा पदार्थ है जो आपको आसानी से मार्केट में मिल जाएगा । जैसे पनीर मिलता है । यह पनीर के जैसा ही दिखता है । जैसे हम पनीर की सब्जी या फिर ग्रेवी बनाते हैं वैसे ही टोफू या फिर ग्रेवी बना सकते हैं । हर चार-पांच दिन के बाद आप इसे खा सकते हैं ।

दाल – घर में आसानी से मिलने वाली दाल मैं प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं। आप कौन सी भी दाल खा सकते हैं। हर एक दाल में प्रोटीन की मात्रा अलग-अलग होती है । लेकिन दाल की ग्रेवी बनाते समय यह ध्यान रखें कि वह ज्यादा से ज्यादा गाढ़ा बनाएं । इससे क्या होगा कि ज्यादा से ज्यादा प्रोटीन की मात्रा शरीर में जाएगी ।

काबुली चना – चना , कुछ लोग इसे काबुली चना भी कहते हैं । भारत में चना चावल के साथ खाया जाता है । साथ ही साथ इसकी एक डिश भी बहुत ही फेमस है । उसका नाम है छोले भटूरे । चने में प्रोटीन के साथ-साथ विटामिंस भी अच्छी मात्रा में होते हैं । वह भी आप चार-पांच दिन के अंतराल से ट्राई कर सकते हैं ।

हरी मटर – हरी मटर को आप प्रोटीन के मामले में दूसरे पदार्थों से कम मत समझे ।यह एक प्रोटीन का अच्छा source है । सीजन में आप हरे मटर की सब्जी बनाकर भी खा सकते हैं। हरे मटार को माइनस डिग्री सेल्सियस पर स्टोर किया जाता है और ऐसा स्टोरेज का माल साल भर मिलता है । तो आप हरे मटर भी खा सकते हैं। या फिर सूखे मटर भी साल भर खा सकते है ।

Protein sabse jyada kisme hota hai ? High protein diet plan in hindi explained in detail.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

Remove your ads block in browser to proceed.

Refresh