Diet chart for 6 month baby in hindi

Diet chart for 6 month baby in hindi

Diet chart for 6 month baby in hindi – बच्चों का जन्म घर में खुशियां लाता है । बच्चे तो भगवान की देन होते हैं । बच्चों की देखभाल के लिए हम क्या कुछ नहीं कर सकते । हमारा बच्चा जल्दी बड़ा हो यह हर एक माता-पिता को लगता है। इस खुशी में हम बहुत सारी चीजें उसे खाने पीने को देते हैं । उनमें से बहुत सारी चीजें बच्चों के कुछ भी काम की नहीं होती ।

तो हम सब के लिए यह जानना बहुत ही जरूरी है कि बच्चों को जन्म से लेकर 6 माह तक खाने के लिए क्या क्या देना चाहए । क्या-क्या पीने को आप दे सकते हो क्या क्या खाने को दे सकते हैं। पूरी जानकारी में दूंगा । अगर आप इसके अलावा कुछ भी अपने बच्चों को खाने पीने को नहीं देना है । diet chart for 6 month baby in hindi ।

नवजात शिशु को क्या खिलाएं। diet chart for 6 month baby in hindi ।

बच्चे को जन्म से लेकर 4 माह तक सिर्फ और सिर्फ माता का दूध ही देना चाहिए। माता का दूध ही बच्चे के लिए सर्वोत्तम है। इसके अलावा और कुछ भी नहीं देना चाहिए । पानी भी आपको आपके बच्चे को 4 माह तक नहीं देना है।

अगर मां का दूध बच्चे को पर्याप्त मात्रा में आता है तब मां का दूध ही दे। अगर मां का दूध पर्याप्त मात्रा में नहीं आता हो, तो गाय का दूध दे । लेकिन भैंस का या फिर और किसी भी जानवर का दूध नहीं देना है । आर्टिफिशियल दूध पाउडर का भी दूध आपको नहीं देना है ।

गाय का दूध as it is , वैसे का वैसा भी बच्चे को नहीं देना है। उसमें पानी मिलाकर पतला कर कर ही देना है। अगर आपके बच्चे की उम्र 1 साल तक हो तो दूध और पानी का रेश्यो 1 : 1 रखे । इसका मतलब है जितना दूध उतना पानी मिला कर दे ।

1 से 2 माह के बच्चों को 2:1 रेशों रखें। इसका मतलब है दोन भाग दूध और एक भाग पानी । इसका मतलब है 20ml दूध और 10ml पानी । 3 माह तक के बच्चों को 3:1 , तक इसका मतलब तीस मिली दूध और 10 मिली पानी और चार चार माह तक के बच्चों के लिए , 40 मिली दूध और 10 मिली पानी इस प्रमाण में मिलाकर उन्हें दे ।

4 माह के बाद पांचवें और छठे महीने में हम अपने बच्चों को बाहर का पानी दे सकते हैं । लेकिन पानी पूरी तरह से 10 मिनट तक उबाल कर ही दे। और दूध भी वैसे का वैसा भी गाय का दे सकते है ।साथी साथ भैंस का दूध भी आप अपने बच्चों को दे सकते हैं । भैंस का दूध उसकी क्रीम निकाल कर ही दे।

पांचवें और छठे माह में आपको फलों का जूस अपने बच्चों को देना है। ऑरेंज संतरे, स्वीट लाइम मौसंबधी, एप्पल और टोमेटो जूस आप दे सकते हैं । शुरुआत में इस जूस में थोड़ा सा पानी मिला कर दे और थोड़ी ही मात्रा में दें । जैसे जैसे दिन बीते जाते हैं वैसे वैसे उसकी मात्रा बढ़ा दी जाए।

नारियल पानी बच्चों के लिए अमृत समान होता है । नारियल पानी के साथ-साथ दाल वाटर और राइस वाॅटर भी देना चाहिए। दाल और चावल एक पतीले में रखकर उसमें ज्यादा पानी डालें और उसमें अच्छी तरह से उबा ले। जो ऊपर का पानी पानी रह जाता है उसे दाल वाटर और राइस वाॅटर बोलते। हैं यह बच्चों को देना सेहतमंद होता है ।

Diet chart for 6 month baby in hindi- navjat shishu ki kya khilaye – explained in hindi. Meaning of homeopathy in hindi.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

Remove your ads block in browser to proceed.

Refresh