Eczema treatment in hindi

Eczema treatment in Hindi

दुनिया मे बहुत सारे लोग ऍलर्जिक स्कीन डिसीज से परेशान है । इस्मे से 1 महत्वपूर्ण बिमारी है वेट एक्झिमा । यांनी मराठी में जळवात । इस से बहुत ही ज्यादा तकलीफ होती है । Eczema treatment in hindi।

वेट एक्जिमा के लक्षण । Eczema symptoms in hindi ।

इस मे पैर के तलवों और हतेली पर बहुत जादा खुजाता है । हात और पैर की उंगली के बीच में खुजाता है । खुजाने के साथ उसकी स्किन निकल आ जाती है ।

ज्यादा खुजाने पर खून भी निकलता है । हात पैरो के बीचो बीच , तलवों मे हतेली योके बीचो बीच दरारे पड जाती है । और वह स्किन कट जाती है । यह हथेलियों और तलवों के साइड के स्किन मे भी हो सकता है ।

Eczema_ मराठी मे इसे जलवात भी बोलते है । यह ऍलर्जिक स्किन डिसीज हे । इसका मतलब है किसी ना किसी चीज की एलर्जी होने पर ही ये बिमारी हो सकती है ।

एक्झिमा के पेशंट मे दुसरे ऍलर्जिक डिसीज भि पाये जाते है । जैसे की ऍलर्जिक सर्दी, खासी और अस्थमा । Read more – triphala churna in hindi.

एक्झिमा होने का कारण । Eczema causes in hindi ।

सोचने की बात है, अगर यह हात और पैरो के तलवे को होता है । तो हात पैरो के संपर्क मे अगर कोई चीज आती है , तो यह हो सकता है ।

अब आपको वही चीज ढूंढ निकालने है । तो किन किन चीजो की एलर्जी हो सकती है ?

वह हे chemicals _ केमिकल फॅक्टरी मे काम करने वाले लोग । जिन का ज्यादा संपर्क केमिकल्स से आता है ।

लेडीज मे सोप्स , deatergent , बर्तन या फिर कपडे धोने के पावडर , सोप फर्ष पोचने का केमिकल , plastic shoe’s इनसे एग्जिमा हो सकता है।

डॉक्टर्स या नर्सेस मे ग्लोवस् पहनने से एलर्जी होती है । कुछ लोगो मे घडीया , अंगूठी पहनने से होता है । बहुत सारे लोगों को धूल और मिठी की एलर्जी होती है ।

धूल , मिठी और कीचढ के संपर्क से भी ऐसा होता है । बहुत सारे केसेस मे ऐसा कोनसा भी कारण नही पाया जाताा। अपने आप ही ऐसा होता है ।

Eczema treatment in hindi

अगर किसी को उपर दिये हुये कौन से भी चीज से एलर्जी हो , तो आपको वही चीज अपने आप से हमेशा के लिए दूर रखना है । तभी आप एक्झिमा से दूर रह सकते है ।

इसकी ऍलोपॅथी मे ट्रीटमेंट हे – love cooking ? Kacchi dabeli recipe in Hindi ।

Dermikem oc / Dexoderm OC Cream। इस ब्रँड नेम के साथ क्रीम आती है ।

इस्मे Leta gm / Betnovate gm / clobeta gm इस्मे से कोई भी एक क्रीम आपस में मिलाने की है।

पहेली एक क्रीम और दूसरों में से एक क्रीम – दोनो क्रीम आपस मे मिलाकर सिर्फ रात को सोते टाइम लगानी है । और सुबह धो डालने है ।

T. Medrol mg ( Methy/ prednesolon) यह गोली रोज रात को सोते टाइम लेणी है । रोज रात को एक गोली।

T. Levocet M ( Leocetricizine + Monteleakast ) रोज सुबह खाने के बाद लेनी है। यह औषधीयो का कोर्स आपको लगातार एक महिना करना है ।

ayurvedic eczema treatment in hindi

T. Praval panchamtrith tab , 2 टॅबलेट दिन मे दो बार खाने से पहले 2) padadari पददारी मलम – यह मलम पैर पुरा अच्छी तरह से धोकर उसे सुखा कर पैरो मे लगाना है ।

और दुसरे दिन उसे धो डालना है । यह आयुर्वेदिक उपाय आपको लगातार दो महिना करना है ।

एक्जिमा के घरेलू उपचार

बाजार से शुद्ध कपूर लाकर उसका चुरण बनाले । आधा चम्मच कपूर का चुरण प्लस आधा चम्मच हलदी और एक चम्मच एलोवेरा फ्रेश पल्प उसको अच्छे तरसे मिक्स करके , एक्झिमा पर लगाये ।

रात भर रखे और उसे सुबह धो डाले । ऐसा एक महिना लगातार करे ।

ॲलोपॅथी और आयुर्वेदा इस मे सिर्फ एक ही ट्रीटमेंट आप एक टाइम पर ले । सभी औषधिया इस्मे मिक्स न करे और ऍलोपॅथिक ट्रीटमेंट अपने फॅमिली डॉक्टर को दिखा कर ले । अपने आप से मेडिकल मे जाकर न ले ।

इन सब उपायों से आपका एग्जिमा पूरी तरह से और हमेशा के लिए खत्म हो जाएगा ।

eczema treatment in hindi and eczema causes and symptoms in hindi explained in detail.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

Remove your ads block in browser to proceed.

Refresh