Pregnancy rokne ke upay

Pregnancy rokne ke upay

    Pregnancy rokne ke upay -ऐसा ट्रेन्ड चल  रहा है कि, अगर किसी की शादी हो जाए तो वह कहते हैं कि हमें जल्दी बच्चा नहीं चाहिए। अभी भी हम एंजॉय करना चाहते हैं। बहुत सारे शादीशुदा लोग तीन-चार साल तक बच्चा ना होने देना ही बेहतर समझते हैं। आजकल हमारा समाज बहुत ही मॉडर्न हो गया है इसमें गर्लफ्रेंड बीएफ  गलत नहीं समझा जाता। 


अभी तो नववी दसवीं कक्षा के लड़का लड़की भी बॉयफ्रेंड बना रहे हैं। तो इस उम्र में उनसे गलती होने के चांसेस बहुत ही ज्यादा होते हैं। गलती से लड़की प्रेग्नेंट भी हो सकती है। तो इन दोनों केसेस में अगर आप शादीशुदा है और आपको बच्चा नहीं चाहिए।और आपकी शादी नहीं हुई हो तो आपको बच्चा ना होने के लिए क्या-क्या प्रिकॉशंस लेने चाहिए? तो इस आर्टिकल में आपको यही बताऊंगा। pregnancy rokne ke upay.  Read this post in English

     प्रेग्नेंसी रोकने के तरीके । pregnancy rokne ke upay ।

1.condom- यह सबसे सिंपल और सरल उपाय है। और सबसे अच्छा भी है। हर बार यौन संबंध बनाते समय कंडोम का इस्तेमाल करें। यह बहुत ही कारगर मेथड है। जिनकी शादी नहीं हुई उनके लिए तो सबसे बेस्ट है। यह किसी भी मेडिकल स्टोर में आसानी से मिल जाता है।

2. अगर कभी ऐसा हो कि आप हड़बड़ी में कंडोम लाना भूल जाए। या फिर कंडोम लगाना भूल जाए। या फिर कंडोम फट जाए। विदाउट कंडोम ही यौन संबंध आ जाए म। तो उसे अनप्रोटेक्टेड सेक्स कहते हैं। तो 72 घंटों के अंदर अपनी गर्लफ्रेंड या  बीवी को एक गोली देनी होती है उसका नाम है टेबलेट अनवांटेड UNWANTED 72। 


यह गोली अनप्रोटेक्टेड सेक्स होने के बाद 72 घंटे के अंदर देनी होती है। आप जितना जल्दी यह गोली देंगे तो  प्रेगनेंसी रहने के चांसेस उतने ही कम हो जाएंगे। अगर यह गोली आपको नहीं मिलती तो आपको mala-d , MALA-N की 2 गोलियां भी आप एक साथ दे सकते हैं। वह भी कारगर साबित होती है।

3.safe unsafe period- पिरियड नॉरमल मेंस्ट्रूअल साइकिल (MC)एमसी जो आती है, यानी हिंदी में उसे मासिक धर्म भी कहते हैं। वह नॉर्मल 26 दिनों से लेकर 32 दिन तक रहती है। यह हर औरत में अलग-अलग होती है। जो bleeding का पहला दिन होता है उसे एमसी का पहला दिन माना जाता है। मान लो कि 28 दिनों की ही एमसी की एक साइकिल है। तो उसमें safe पीरियड और  unsafe पीरियड कौन से होते हैं?  


1 दिन से लेकर 10 दिन तक एमसी के और 19 से लेकर 28 तक सेफ पीरियड रहता है। इसका मतलब इन दोनों में आप सेक्स करोगे तब भी आपको प्रेगनेंसी रहने का खतरा नहीं रहता। एमसी के 11 से लेकर 18 दिन तक अनसेफ पीरियड रहता है। इसका मतलब इन दिनों में अगर आप सेक्स करेंगे तो आपको प्रेगनेंसी रहने का चांस बहुत ही हाई होता है।

Pregnancy rokne ki tablet in hindi 

4. Contraceptive pills-गर्भनिरोधक गोलियां यह उपाय शादीशुदा औरतों के लिए सबसे बेस्ट है। माला डी और माला एन गोली गर्भनिरोधक में सबसे फेमस है। यह गोली एमसी के पहले दिन से लेकर 21 वे दिन तक लगातार लेनी होती है।  
कुछ-कुछ गर्भ निरोधक गोलिया 28 दिनों तक आती है। वह रोज ही लेनी होती है उसमें 21 गोलियां गर्भनिरोधक की और 7 गोलियां खून बढ़ाने की होती है। यह गोली चुकना नहीं चाहिए। अगर गलती से भी गोली चुग गई तो दूसरे दिन आपको दो गोली एक साथ लेनी पड़ती है।

5. Copper-t यह एक बच्चा होने के बाद दूसरे बच्चे में अंतर रखने के लिए सबसे कारगर उपाय है। इसका मतलब आप इसका प्रयोग सिर्फ एक बच्चा होने के बाद ही कर सकते हैं। इससे पहले आप नहीं कर सकती।  copper-t गर्भाशय में बिठाते हैं। इसका छोटा सा प्रोसीजर होता है कोई भी गायनाकोलॉजिस्ट आपको इसे बिठा कर देगा। 


इसे 3 से 5 साल तक आप गर्भाशय में रख सकते हैं। अगर इससे ज्यादा आपको cu-t रखना  है तो आपको दूसरी बिठानी होगी। जब कभी भी आपको दूसरी प्रेगनेंसी चाहिए तो आप copper-t निकाल कर तुरंत ही मां बन सकती है।

Read more- heat stroke 

6. मेल कंडोम के जैसे ही फीमेल कंडोम भी आते हैं लेडीस उनका भी इस्तेमाल कर सकती है।
7. कुछ ऑपरेशंस भी होते हैं प्रेगनेंसी रोकने के। कुछ पुरुषों में किए जाते हैं कुछ औरतों में। पुरुषों में vasectomy की जाती है। vasectomy वैसे टॉमी में शुक्राणु लाने वाली जो नलिका होती है उसे ही बांधकर ब्लॉक किया जाता है। उससे शुक्राणु गर्भाशय में नहीं पहुंच पाते। इसे पुरुष नसबंदी भी कहा जाता है।लेकिन पुरुष नसबंदी के बारे में बहुत सारी अफवाहें फैलाई गई है। 


इससे पुरुषों में नपुंसकता आ जाती है यह सरासर झूठ बात है क्योंकि पुरुष नसबंदी से नपुंसकता नहीं आती। इससे आपके काम जीवन पर सेक्स लाइफ पर कोई भी विपरीत परिणाम  नहीं होता। आप पहले जैसे सेक्स लाइफ एंजॉय कर सकते है। इसके बाद भी उतनी ही अपनी सेक्स लाइफ एंजॉय करोगे सिर्फ आपको बच्चा नहीं होगा।

8. Tubectomy ट्यूबेक्टमी या ट्यूबल लिगेशन tubal ligation यह ऑपरेशन स्त्रियों में किया जाता है। अंडा गर्भाशय में लाने वाली जो नलिका होती है उसे ही बांधकर ब्लॉक किया जाता है। इससे अंडा गर्भाशय में नहीं आता और प्रेगनेंसी नहीं रहती।

9. स्पर्मिसाइड जेल* spermicidal gel को स्त्रियों को अपने प्रजनन अंग में लगाना होता है। प्रणय  क्रीडा से पहले। तो sperm धातु होते हैं वह मर जाते हैं। इसे प्रेग्नेंसी का खतरा कम हो जाता है।

10. Hormonal injections and patches-हार्मोन इंजेक्शन एंड हार्मोनल पेचिश-  गर्भनिरोधक गोलियों जैसे ही काम करते हैं लेकिन उसे खाया नहीं जाता। सिर्फ इंजेक्शन और शरीर के ऊपर लगाना होता है। वह शरीर में कुछ कुछ अंतर से कुछ कुछ मात्रा में हारमोंस hormones रिलीज करते हैं। लेकिन यह सिर्फ आपको अपने गाइनेकोलॉजिस्ट की सलाह से ही लेना होगा।

Pregnancy rokne ke upay explained in hindi । stay fit stay healthy ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

Remove your ads block in browser to proceed.

Refresh